Categories
News Other

कोरोना : दिल्ली में अचानक हो गया चमत्कार, इन ऑकडो़ को देख किसी को न हुया विश्वास….

खबरें

भारत में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 7 लाख पार गया गया है और अब तक 19 हजार 700 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. इस बीच दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 1 लाख पार कर गया है. दिल्ली सरकार की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक देश की राजधानी में बीते 24 घंटे में कोरोना के 1379 नए मामले सामने आए और इस दौरान 48 लोगों की जान चली गई. इसके साथ ही दिल्ली में कोरोना के अभी 100823 मामले हैं और अब तक 3115 की जान जा चुकी है. बीते 24 घंटे में 749 मरीज ठीक हुए हैं और ठीक होने वाले का आंकड़ा बढ़कर 72088 हो गया है.

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि कोरोना मामलों की संख्या करीब एक लाख पहुंच गई है, लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि ठीक होने वाले लोगों की संख्या करीब 72,000 हो गई है. पिछले हफ्ते कोरोना की स्थिति में और अधिक सुधार हुआ है. जैसे जून के महीने में हम टेस्ट किया करते थे तो हर 100 में से 35 कोरोना मरीज़ निकलते थे, अब 100 में से 11 ही कोरोना मरीज़ निकलते हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि रोजाना 20,000 से 24000 टेस्ट हो रहे हैं. सभी अस्पतालों में मिलाकर करीब 5100 मरीज हैं यानी करीब 10,000 बेड खाली हैं. इस समय दिल्ली में टेस्टिंग की कोई समस्या नहीं है. एप्प के ऊपर आप देख सकते हैं कि कहां कितने बेड खाली हैं. घरों में 25,000 मरीजों में 15000 मरीजों का इलाज चल रहा है. जून में 1 दिन दिल्ली में करीब 125 मौत हुई थी लेकिन अब करीब 60 मौत हो रही हैं.

उन्होंने कहा कि पिछले हफ्ते देश में पहला प्लाज्मा बैंक शुरू हुआ. प्लाज़्मा से मॉडरेट लोगों की स्थिति सुधरती है, मौत कम करने में मदद मिलती है. प्लाज्मा के लिए पिछले दिनों जो अफरा-तफरी मची थी वह अब कम हो गई है. गुरुवार को प्लाज्मा बैंक शुरू हुआ था लेकिन प्लाज्मा की डिमांड ज्यादा है और सप्लाई बहुत कम है. अगर प्लाज्मा डोनेट करने वालों की संख्या नहीं बढ़ी तो स्टॉक में जो प्लाज्मा रखा है वह सब खत्म हो जाएगा. हाथ जोड़कर गुजारिश है कि ज्यादा से ज्यादा लोग आगे आकर प्लाज्मा डोनेट करें. घबराने की कोई जरूरत नहीं है ना ही आपको कमजोरी आएगी ना ही कोई दर्द होगा.